Breaking News
news-details
लिक्खाड़

राम सबके हैं, राम सबमें है- पीएम मोदी

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के बाद  जय सियाराम के उद्घोष के साथ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित करते हुए कहा कि सबमें राम, सबके राम, जय सियाराम. उन्होने अपने संबोधन की शुरूआत सियावर रामचंद्र की जय से की, पीएम ने कहा कि आज का ये दिन करोड़ों रामभक्तों के संकल्प की सत्यता का प्रमाण है. आज का ये दिन सत्य, अहिंसा, आस्था और बलिदान को न्यायप्रिय भारत की एक अनुपम भेंट है. पीएम नरेंद्र मोदी ने भगवान राम के चरित्र की व्यापकता की चर्चा करते हुए कहा कि श्रीराम का चरित्र सबसे अधिक जिस केंद्र बिंदु पर घूमता है, वो है सत्य पर अडिग रहना. इसीलिए राम संपूर्ण हैं. पीएम ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम राम ने सामाजिक समरसता को अपने शासन की आधारशिला बनाई. उन्होंने गुरु वशिष्ठ से ज्ञान, केवट से प्रेम, शबरी से मातृत्व, हनुमानजी एवं वनवासी बंधुओं से सहयोग और प्रजा से विश्वास प्राप्त किया. राम ने एक गिलहरी की महत्ता को भी उन्होंने सहर्ष स्वीकार किया.

पीएम ने कहा कि राम हमारे मन में गढ़े हुए हैं, हमारे भीतर घुल-मिल गए हैं. आप भगवान राम की अद्भूत शक्ति देखिए, इमारतें नष्ट हो गईं. क्या कुछ नहीं हुआ, ​अस्तित्व मिटाने का हर प्रयास हुआ. लेकिन राम आज भी हमारे मन में बसे हैं, हमारी संस्कृति के आधार हैं.प्रधानमंत्री ने कहा जीवन का ऐसा कोई पहलू नहीं है, जहां हमारे राम प्रेरणा न देते हों. भारत की ऐसी कोई भावना नहीं है जिसमें प्रभु राम झलकते न हों. भारत की आस्था में राम हैं, भारत के आदर्शों में राम हैं! भारत की दिव्यता में राम हैं, भारत के दर्शन में राम हैं.

0 Comments

Leave Comments